कोरोना महामारी से निपटने में क्या केरल मॉडल, गुजरात मॉडल से बेहतर है?

गुजरात के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में से 21.2 फ़ीसदी ही चौबीस घंटे काम करते हैं. सिर्फ़ 23.7 फ़ीसदी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में ही ऑपरेशन थिएटर की व्यवस्था है. वहीं गुजरात के 52 फीसदी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में और 41 फ़ीसदी कम्युनिटी हेल्थ सेंटर में स्टाफ़ के लिए अलग टॉयलेट तक की व्यवस्था नहीं है.
मॉडल स्टेट कहे जाने वाले गुजरात के स्वास्थ्य केंद्रों की स्थिति इन आंकड़ों से स्पष्ट हो जाती है.
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मामलों के केंद्रीय मंत्री अश्वनिकुमार चौबे ने कुछ सवालों के जबाव में 31 मार्च 2018 तक के ये आंकड़े लोकसभा में पेश किए थे.

Whatsapp
Hide Buttons
संपर्क करें - 6382484706 अथवा मेल करें - queries@hindmaan.com
हिन्दमान भारत वर्ष की प्रमुख समाचार माध्यम है। जो हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्ध है।
हिन्दमान में न्यूज के लिए संपर्क करें - editor@hindmaan.com
toggle